राजनाथ सिंह ने बाबा अमरनाथ के दर्शन किए, सुरक्षा इंतजाम का जायजा भी लिया

0
75
rajnath singh

देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) शनिवार को अमरनाथ पहुंचे। यहां उन्होंने बाबा बर्फानी के दर्शन किए। दर्शन करने के बाद रक्षामंत्री ने यहां सुरक्षा का जायजा लिया। बताया जा रहा है कि सेना को अमरनाथ में आतंकी हमले (Terrorist Attack) के इनपुट मिले हैं, जिसके बाद सुरक्षा सख्त कर दी गई है। राजनाथ सिंह के साथ सीडीएस बिपिन रावत और सेनाध्यक्ष नरवणे भी मौजूद रहे। इससे पहले शुक्रवार को राजनाथ सिंह लद्दाख पहुंचे थे।

ये भी पढ़ें:- चीन को एक और जोरदार झटका चीन के विरोध में और भारत के पक्ष में खुलकर आया ऑस्ट्रेलिया

राजनाथ सिंह इन दिनों जम्मू-कश्मीर (Rajnath Singh in Jammu Kashmir) के दौरे पर हैं। शनिवार की सुबह वे अमरनाथ की गुफा (Amarnath Cave) पहुंचे। यहां उन्होंने भगवान के दर्शन किए। पुजारियों ने राजनाथ सिंह को लाल रंग की चुनरी उढ़ाकर उन्हें आशीर्वाद दिया। यहां गुफा में मौजूद पुजारियों ने राजनाथ सिंह के हाथों भगवान भोलेनाथ का पूजन करवाया। इस दौरान अमरनाथ गुफा मंत्रों से गूंज उठी। विधि विधान से पूजन करवाने के बाद पुजारियों ने उन्हें प्रसाद और आशीर्वाद भी दिया। दर्शन के बाद रक्षामंत्री ने अमरनाथ गुफा (Rajnath Singh in Amarnath) के इलाके की सुरक्षा इंतजाम भी परखे। राजनाथ के साथ सीडीएस बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) और सेनाध्यक्ष नरवणे भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें:- बिल गेट्स बोले- भारत सिर्फ अपने लिए ही नही,पूरी दुनिया के लिए CORONA वैक्सीन तैयार कर सकता है

इससे पहले शुक्रवार को राजनाथ सिंह लद्दाख पहुंचे थे। राजनाथ सिंह ने कहा था कि हम अशांति नहीं चाहते हम शांति चाहते हैं। हमारा चरित्र रहा है कि हमने किसी भी देश के स्वाभिमान पर चोट मारने की कभी कोशिश नहीं की है। भारत के स्वाभिमान पर यदि चोट पहुंचाने की कोशिश की गई तो हम किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं करेंगे और मुंहतोड़ जवाब देंगे। लद्दाख में राजनाथ सिंह ने अप्रत्यक्ष रूप से चीन को चेतावनी देते हुए कहा था कि भारत की एक इंच जमीन कोई नहीं ले सकता। LAC पर पहुंचकर राजनाथ सिंह ने जवानों का हौसला बढ़ाया। राजनाथ सिंह ने कहा था कि हमें भारतीय सेना पर नाज है। आपको बता दें कि भारतीय सेना (Indian Army) को कुछ ऐसे इनपुट्स मिले हैं, जिनसे यह पता चलता है कि 21 जुलाई से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) पर आतंकी हमले (terrorist attack) की योजना बनाई जा रही रही है। 21 जुलाई से शुरू होने वाली तीर्थयात्रा की सफलता के लिए आतंकियों की हर योजना को विफल करने के लिए इलाके में सुरक्षा के इंतजाम सख्त कर दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here