केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया, पहले किसे दी जाएगी वैक्सीन की डोज

0
45
dr harsh vardan

कोरोना महामारी के खिलाफ लगातार जंग जारी है. ऐसे में सरकार वैक्सीन को लेकर काफी सोच -विचार कर रही है.
कोरोना (CoronaVirus) महामारी के खिलाफ जंग में सरकार वैक्सीन रूपी हथियार के साथ जल्द मैदान में उतर सकती है. कोरोना की वैक्सीन कब तक आएगी और शुरू में वैक्सीन की डोज किसे दी जाएगी? केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने इन सभी बिंदुओं पर अपने साप्ताहिक कार्यक्रम संडे संवाद में चर्चा की. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकार की तैयारी देश के हर नागरिक तक वैक्सीन पहुंचाने की है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के ब्लू प्रिंट के बारे में जानकारी दी है. उनका कहना है कि अगले साल तक वैक्सीन तैयार हो जाएगी.

ये भी पढ़ें:- प्रयागराज में BA छात्रा से बंदूक की नोक पर किया था गैंगरेप, आरोपी बीजेपी नेता गिरफ्तार

कोरोना के वैक्सीन को लेकर दुनिया भर में प्रयास चल रहे हैं. कई देशों ने वैक्सीन बना लेने का दावा भी किया है, लेकिन अभी तक किसी भी वैक्सीन को वैश्विक रूप से इस्तेमाल की अनुमति नहीं मिली है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्यों से आबादी के लिहाज से प्राथमिकता वाले समूहों की सूची तैयार करने को कहा गया है. सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन की डोज दी जाएगी. उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश है कि वैक्सीन तैयार होने के बाद 40 से 50 करोड़ डोज प्राप्त कर लिए जाएं. डॉ. हर्षवर्धन ने संडे संवाद में कोविड 19 वैक्सीन का ब्लू प्रिंट सामने रखा. सरकार का लक्ष्य बताते हुए उन्होंने कहा कि 2021 तक 20-25 करोड़ लोगों को वैक्सीन मुहैया कराया जाएगा. हालांकि इसमें प्राथमिकता का ध्यान दिया जाएगा. प्राथमिकता के आधार पर ही वैक्सीन का बंटवारा किया जाएगा. इसके लिए योजना तैयार की जा रही है. उन्होंने कहा कि पारदर्शिता और जवाबदेही सुनिश्चित की जाएगी. हम कोरोना वैक्सीन के ब्लॉक स्तर पर वितरण की योजना पर काम कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- पंजाब में गरजे राहुल गांधी, बोले- जिस दिन कांग्रेस सत्ता में आई, इन काले कृषि कानूनों को कचरे के डिब्बे में डाल दूंगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here