पुलवामा में आतंकवादियों की 2019 जैसे हमले की एक और बड़ी साजिश नाकाम, सेना ने IED से भरी कार को उड़ाया

0
178
pulwama

जम्मू कश्मीर में आतंकी एक बार फिर सक्रिय हो गए है। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों ने एक बड़े आतंकी साजिश को नाकाम कर दिया है। जम्‍मू-कश्‍मीर में एक बार फिर आतंकियों ने ब्‍लास्‍ट के जरिये सुरक्षाबलों को निशाना बनाने की कोशिश की है। जम्मू कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Attack) जिले में एक बार फिर सुरक्षाबलों पर कार में आईईडी भरकर हमले की बड़ी साजिश को नाकाम किया गया है। पुलवामा में विस्फोटक से भरी एक कार के जरिए आतंकवादी एक बार फिर बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थे, लेकिन सही समय पर मिले इनपुट के बाद सुरक्षाबलों ने कार के घेर लिया और बाद में इसे एहतियात के साथ उड़ा दिया गया। रात को सुरक्षाबलों को जानकारी मिली कि विस्फोटक भरी एक कार सड़क पर निकली है। सुरक्षाबलों ने कार की तलाश शुरू की, कुछ देर बाद उन्हें संदिग्ध सेंट्रो कार को रोका तो सामने से फायरिंग शुरू हो गई। दोनों ओर से गोलीबारी हुई और इस दौरान कार चला रहा शख्स फरार हो गया।
राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम मौके पर पहुंच गई है। पुलिस को जांच में पिछली सीट पर एक ड्रम में भरा विस्फोटक मिला। सेना के अधिकारी मौके पर पहुंचे तो मौके पर खड़ी कार में IED ब्लास्ट लदा था। बताया जा रहा है कि कार में करीब 20 किलो विस्फोटक था। पुलवामा पुलिस, सीआरपीएफ और सेना ने एक्शन लेते हुए इस गाड़ी की पहचान कर ली। दोनों ओर से गोलीबारी भी हुई और इस दौरान अंधरे का फायदा उठाकर कार चला रहा शख्स फरार हो गया। घटनास्थल पर पहुंची बम डिस्पोज़ल स्क्वायड टीम ने बम को डिफ्यूज़ कर दिया।

ये भी पढ़ें:- प्रभावशाली भारतीयों की सूची में देश के सबसे लोकप्रिय सीएम चुने गए योगी आदित्यनाथ, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे प्रभावशाली व्यक्ति

जिस वाहन में यह आईईडी मिली है, उसपर लगी नंबर प्लेट पर कठुआ का नंबर लिखा हुआ है। कार में विस्फोटक इतनी भारी मात्रा में लदा था कि सुरक्षाबलों को उसे उड़ाना पड़ा। शुरुआती इनपुट्स के मुताबिक, सुरक्षाबलों ने पुलवामा के राजपोरा इलाके से इस कार को जब्त किया है। इस कार में बड़ी मात्रा में आईईडी बरामद हुई है। एजेंसियों को शक है कि इन्हें सुरक्षाबलों के किसी काफिले पर हमले के लिए यहां पर लाया गया था। आतंकियों ने एक बार फिर हमले को अंजाम देने के लिए कार का इस्तेमाल किया था। साल 2019 में पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले को निशाना बनाकर जो आतंकी हमला किया गया था उसमें भी आतंकियों ने कार का इसी तरह इस्तेमाल किया था। बता दें कि पुलवामा के राजपोरा रोड पर आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का एक आतंकी इस कार को चला रहा था। पुलवामा पुलिस, सीआरपीएफ और सेना के जवानों ने शक होने पर इस कार को रोकने का प्रयास किया। इस दौरान कार सवार आतंकी ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग की और फरार हो गया। आसपास के घरों को खाली कर दिया गया। बम डिस्पोजल स्क्वायड को मौके पर बुलाया गया। बाद में कार को विस्फोट से उड़ा दिया गया, क्योंकि कार को यहां से कहीं और ले जाना खतरनाक हो सकता था।

ये भी पढ़ें:- Sonu Sood को ट्वीट कर मजदूर ने मदद के बाद किया धन्यवाद, तो सोनू सूद ने लिखा, बोला था न कल मां के हाथ का खाना खाओगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here