jio Facebook deal: फेसबुक की जियो में अब 9.99 फीसदी हिस्सेदारी,लगाए 43 हजार करोड़

0
40
jio facebook deal

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के JIO प्‍लेटफॉर्म्‍स लिमिटेड और दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट Facebook ने बुधवार को घोषणा की कि उनके बीच एक समझौता हुआ है। रिलायंस इंडस्ट्रीज , JIO प्लेटफॉर्म लिमिटेड और Facebook ने एक बाइंडिंग अग्रीमेंट पर हस्ताक्षर की घोषणा की है जिसके मुताबिक Facebook ने JIO प्लेटफॉर्म में 43,574 करोड़ रुपये यानी 5.7 बिलियन डॉलर का निवेश किया है। Facebook इस निवेश के जरिये JIO प्‍लेटफॉर्म्‍स में 9.9 फीसद हिस्‍सेदारी खरीद रही है। इस बड़ी डील के बाद Facebook अब JIO की सबसे बड़ी शेयरहोल्डर बन गई है। Facebook के इस निवेश के बाद JIO प्लैटफॉर्म्स की एंटरप्राइज वैल्यू 4.62 लाख करोड़ हो गई है।

jio facebook deal

Facebook और JIO के बीच इस डील को भारत के टेक्नोलॉजी सेक्टर में अब तक का सबसे बड़ा विदेशी निवेश कहा जा रहा है। इस निवेश के बाद JIO भारत की 5 सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनियों में से एक बन गई है। इस सौदे से रिलायंस इंडस्ट्रीज समूह को अपने कर्ज का बोझ कम करने में मदद मिलेगी तथा Facebook की भारत में स्थिति और मजबूत होगी। उसके लिए उपयोगकर्ताओं आधार के लिहाज से भारत इस समय भी सबसे बड़ा बाजार है। दोनों कंपनियों की साझेदारी से रोजगार के कई अवसर पैदा होंगे और साथ ही बिजनस बढ़ेगा। इस बड़ी डील पर रिलायंस का कहना है कि कंपनी के एक छोटे हिस्से पर किसी टेक कंपनी का यह सबसे बड़ा निवेश है। भारत में टेक्नॉलजी सेक्टर में यह FDI के तहत अबतक का सबसे बड़ा इन्वेस्टमेंट है।

jio facebook deal

Facebook ने कहा, ‘यह निवेश भारत के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। JIO भारत में जो बड़े बदलाव लाया है, उससे हम भी उत्साहित हैं। 4 साल से भी कम समय में रिलायंस JIO 38 करोड़ से ज्यादा ग्राहकों को ऑनलाइन प्लैटफॉर्म पर लेकर आया है। इसलिए हम JIO के जरिए भारत में पहले से ज्यादा लोगों के साथ जुड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’ Facebook के साथ साझेदारी पर रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कहा कि जब रिलायंस ने 2016 में JIO को लॉन्च किया था तब हम हर भारतीय के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने और भारत को दुनिया की अग्रणी डिजिटल सोसाइटी के रूप में प्रचारित करने के सपने से प्रेरित थे। इसलिए रिलायंस के हम सभी लोग भारत के डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र को विकसित करने और बदलाव लाने के लिए हमारे साझेदार के रूप में Facebook का स्वागत करते हैं।

JIO

इस निवेश के बाद JIO प्लेटफॉर्म्स, रिलायंस रीटेल लिमिटेड (रिलायंस रीटेल) और Whatsapp के बीच भी एक व्यावसायिक पार्टनरशिप समझौता हो गया है। इसके अनुसार रिलायंस रीटेल अपना न्यू कॉमर्स व्यवसाय Whatsapp की मदद से जियोमार्ट के प्लेटफॉर्म पर कर सकेगा। रिलायंस के मुताबिक इस डील का फायदा भारत के 6 करोड़ माइक्रो, छोटे और मंझोले व्यवसायों, 12 करोड़ किसानों, 3 करोड़ छोटे दुकानदारों और इंफॉर्मल सेक्टर के लाखों छोटे और मंझोले व्यवसायों को होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here