राजधानी में शराब की दुकानों पर उमड़ी भीड़ लगीं लंबी कतारें, जाम के आगे भूले सोशल डिस्टेंसिंग

0
43
lockdown 3.0

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच लॉकडाउन को 17 मई तक बढ़ा दिया गया है। वहीं, लॉकडाउन के तीसरे चरण में कई जगह शराब और पान की दुकानें खोलने के भी निर्देश दिए गए हैं। सोमवार को तड़के से ही दिल्ली में शराब की दुकानों के बाहर भारी संख्या में लोग कतार में लग गए। राजधानी के कुछ हिस्सों में सुबह 7.30 बजे से ही कतारें देखी गईं। एक महीने से भी ज्यादा समय से बंद दुकान खुलने वाली है ऐसा जानकर लोग सुबह से ही शराब की दुकान के बाहर जमा हो गए। इस दौरान ठेकों पर लंबी लाइनें दिखीं। देश के अन्य राज्यों की तरह दिल्ली में भी सोमवार से शराब की दुकानें खुल तो गई, लेकिन जगह-जगह अफरातफरी का माहौल रहा।

lockdown extension

लोग शारीरिक दूरी के नियमों का भी पालन नहीं कर रहे थे। यहां तक कई जगहों पर पुलिस ने लाठियां तक भांजी।
शराब के ठेकों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) की धज्जियां उड़ते देखकर पुलिस को दखल देना पड़ा। हालात को देखते हुए कई जगह पुलिस को दुकानें बंद करवानी पड़ी तो कहीं पर पुलिस ने खुद खड़े होकर शराब की बिक्री करवाई।दिल्ली में ज्यादातर इलाकों में खुली सरकार दुकानों के बाहर सैकड़ों लोग लाइनें में लगे नजर आ रहे हैं। आलम यह है कि सुबह 9 बजे से लोग शराब की दुकानों के बाहर पहुंच गए थे।इस बीच भीड़ के मद्देनजर दिल्ली में पुलिस ने कई जगह शराब की दुकानें बंद कराईं हैं। यहां पर फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन न होने की बात सामने आई।

lockdown extension

गृह मंत्रालय के लॉकडाउन के नियमों में ढील देने के बाद शराब की करीब 150 दुकानों को खोलने की इजाजत दी गई है। शहर में सरकारी एजेंसियों और निजी तौर पर चलाई जाने वाली 850 शराब की दुकानें हैं।ठेकों पर आए लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ठीक से कर रहे हैं या नहीं इसे देखने के लिए पुलिसवाले सिविल ड्रेस में भी पहुंचे थे।दिल्ली में शराब की दुकानें सुबह नौ बजे से शाम साढ़े छह बजे तक खुलेंगी। सामाजिक दूरी के नियम का पालन कराने के लिए मार्शल तैनात करने का निर्देश भी दिया है।दिल्ली में सभी शराब की दुकानों को नहीं खोला गया है। मॉल और बाजार में शराब की दुकानें बंद रहेंगी। सरकारी दुकानें केवल सुबह नौ से शाम साढ़े छह बजे तक खुलेंगी।एक बार में दुकान में पांच से अधिक लोग मौजूद ना हो यह सुनिश्चित करने के लिए ये चार एजेंसियों वहां मार्शल भी तैनात करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here