शरद पवार का राज्यपाल पर निशाना, बोले- गवर्नर के पास कंगना रनौत से मिलने का वक्त, पर किसानों के लिए फुरसत नहीं

0
69
sharad pawar

किसानों का आंदोलन आज लगातार 61वें दिन दिल्ली की सीमाओं पर जारी है. मुंबई के आजाद मैदान में किसानों के समर्थन में उमड़े जनसैलाब को संबोधित करते हुए पवार (sharad pawar) ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी पर निशाना साधा. आज किसानों के समर्थन में मुंबई के आजाद मैदान में किसानों की रैली हुई. किसान गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) की तैयारी कर रहे हैं. महाराष्ट्र के 21 जिलों के किसान, मजदूर औऱ अन्य वर्ग के लोगों के दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में आए थे. पवार (sharad pawar) ने कहा क्या पंजाब पाकिस्तान में है. पवार (sharad pawar) ने आंदोलित किसानों के प्रति केंद्र सरकार के रवैये पर सवाल उठाया.

ये भी पढ़ें:- शादी के बंधन में बंधे वरुण धवन और नताशा दलाल, तस्वीरें हुई वायरल

पवार (sharad pawar) ने कहा कि जिनके हाथो में सरकार है उन्हें किसानों की कोई चिंता नहीं है. इतने दिनो से किसानों का आंदोलन चल रहा है लेकिन पीएम मोदी ने अभी तक किसानों की खबर तक नहीं ली. उन्होंने कहा, ”महाराष्ट्र के इतिहास में ऐसा राज्यपाल नहीं मिले है. किसान आज मुंबई में हैं लेकिन राज्यपाल गोवा में चले गए. राज्यपाल को कंगना रनौत से मिलने का वक़्त है लेकिन किसानों से मिलने का वक़्त नहीं है.” पवार (sharad pawar) ने कहा कि हम पिछले 60 दिनों से देख रहे हैं कि सर्दी, धूप, बारिश जैसी कठिनाइयों की परवाह किए बगैर यूपी, हरियाणा और पंजाब के किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. पवार (sharad pawar) ने कहा कि संसद में विस्तृत चर्चा कराए बगैर कृषि कानूनों (Farm Laws) को पारित करा लिया. पवार (sharad pawar) ने कहा, ”बाबा साहब अम्बेडकर ने जो संविधान दिया है उसका सीधा सीधा अपमान मोदी सरकार ने किया. इसलिए इस क़ानून का हम विरोध कर रहे हैं. किसान का कहना है कि पहले क़ानून रद्द करो उसके बाद क्या चर्चा करनी है उसके लिए सभी तैयार हैं.”

ये भी पढ़ें:- TRP Scam case: पार्थ दासगुप्ता ने कबूला रेटिंग फिक्सिंग के बदले अरनब ने तीन साल में दिए 40 लाख रुपये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here