NEET Results 2020: आकांक्षा कोचिंग पढ़ने रोज जाती थी 70 किलाेमीटर, NEET में आए 720 में 720 नंबर

0
45
neet 2020

नीट परीक्षा के जरिये देश भर के मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस और बीडीएस में दाख‍िला मिलता है. इसमें ऑल इंडिया रैंकिंग के हिसाब से देश के टॉप मेडिकल संस्थानों में दाख‍िला मिलता है. इस बार NEET के रिजल्ट में 720 में 720 नंबर लाने वाली आकांक्षा सिंह ने ये साबित कर दिया है की प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती. यूपी के कुशीनगर जिले की रहने वाली आकांक्षा सिंह परीक्षा में 720 में से 720 नंबर हासिल किए है. आकांक्षा कुशीनगर के अभिनायकपुर गांव में रहती हैं. वह बताती हैं कि नीट की कोचिंग के लिए वह रोज 70 किलोमीटर गोरखपुर जाती थी. जब वह हाईस्कूल कर रहीं थीं तभी से उन्होंने नीट की तैयारी शुरू कर दी थी.बाद में 11 वीं 12वी दिल्ली में पढ़ाई की और फिर वहीं से नीट की कोचिंग की.

ये भी पढ़ें:- NEET Results 2020: ओडिशा के शोएब और दिल्ली की आकांक्षा ने NEET में किया टॉप, 720 में 720 पाकर रचा इतिहास

शुक्रवार को रिजल्‍ट आने के बाद उन्‍होंने अपने पूरे गांव में मिठाई बांटकर इस खुशी का इजहार किया. आकांक्षा के पिता भारतीय वायुसेना के रिटायर्ड सार्जेंट हैं. उनकी मां रुचि सिंह गांव पर ही प्राथमिक स्‍कूल की टीचर हैं. बेटी की इस कामयाबी से वे दोनों बेहद खुश हैं. 10वीं तक कुशीनगर में पढ़ने वाली आकांक्षा ने बताया कि मैं इस सफलता का श्रेय ईश्वर, माता पिता और अपने कोचिंग इंस्टीट्यूट को देना चाहती हूं. मैंने 11 व 12 दिल्ली के प्रगति पब्लिक स्कूल में पढ़ाई की. आकांक्षा को पढ़ना और गाने सुनना पसंद है. आकांक्षा बताती हैं कि पहले मैं 8वीं तक सिविल सर्विस में जाने की सोच रही थी लेकिन दिल्ली स्थित एम्स मेरे लिए एक प्रेरणा है. 9वीं से मैंने उसे अपना सपना मानकर नीट की तैयारी की शुरू कर दी. आकांक्षा दूसरे स्थान पर हैं जबकि टॉपर शोएब के बारे में बताती हैं कि मेरी उम्र 17 साल है जबकि उनकी उम्र 18 के आसपास है इसलिए उनके प्रथम रैंक दिया गया है. वह बताती हैं कि मैंने यह कभी नहीं सोचा था कि मैं टॉप की श्रेणी में होऊंगी लेकिन मुझे टॉप 40 में आने की उम्मीद थी.

ये भी पढ़ें:- IPL 2020: कोहली ने चेन्नई को हराने के बाद MS Dhoni को गले से लगाया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here