नोएडा की ‘सोनू सूद’, 12 साल की लड़की ने 48 हजार खर्च कर कैंसर पीड़ित 3 मजदूरों को प्लेन से परिवार समेत झारखंड भेजा

0
78
noida girl

कोरोना वायरस के लॉकडाउन में देशभर के मजदूर और दूसरे लोग अपने घर, गांव, परिवार से दूर रहें। अब लॉकडाउन में ढील और अनलॉक में वे अपने घर जाने की पूरी जुगत में हैं। लेकिन, ऐसे में भी बहुत से लोग हैं जो आर्थिक परेशानियों की वजह से अपने गांव-घर नहीं जा पा रहे हैं। ऐसे में यूपी के गोतम बुद्ध नगर नोएडा की रहने वाली एक 12 साल की छात्रा ने अपनी बचत से 48 हजार रुपये खर्च करके तीन प्रवासी मजदूरों को उनके घर झारखंड भेजा। उन्होंने तीनों की हवाई जहाज टिकट की व्यवस्था की।

ये भी पढ़ें:- सुप्रीम कोर्ट: संविधान से इंडिया शब्द हटाकर देश का नाम भारत रखने की मांग, क्या भारत के नाम से हट जाएगा ‘इंडिया’

नोएडा की 12 साल की लड़की ने बचत के पैसों से एक श्रमिक के परिवार को हवाई जहाज से रांची भेजा है। नोएडा के सेक्टर 50 की निवासी निहारिका द्विवेदी आठवीं क्लास में पढ़ती है। उसने अपनी बचत के रुपयों को खर्च कर श्रमिक के परिवार के तीन लोगों के लिए रांची तक का प्लेन टिकट बुक कराया। अपने इस योगदान पर कहा कि समाज ने हमें बहुत कुछ दिया है और जो भी मिला है उसे संकट के समय में समाज को वापस लौटाने की जिम्मेदारी भी हमारी है।

ये भी पढ़ें:- चीन को एक और जोरदार झटका चीन के विरोध में और भारत के पक्ष में खुलकर आया ऑस्ट्रेलिया

निहारिका को अपने एक रिश्तेदार से पता चला कि युसुफ सराय स्थित सरकारी स्कूल में ठहरा झारखंड का एक परिवार बहुत परेशान है। परिवार के मुखिया को कैंसर है, उसकी पत्नी और बेटी उसे लेकर झारखंड लौटना चाहती हैं। लॉकडाउन में काम न मिलने के बाद यह परिवार किसी तरह नोएडा से दिल्ली आया था और शेल्टर होम में रह रहा था। इसकी जानकारी होने के बाद निहारिका ने तीनों की मदद के लिए अपनी बचत के 48 हजार रुपए देने का फैसला लिया। इसमें उसके मां-पापा ने सपोर्ट किया। मदद के लिए दिए गए इन पैसों से दिल्ली से रांची तक फ्लाइट के टिकट खरीदे गए और झारखंड में घर तक पहुंचाने की व्यवस्था की गई। सरकारी स्कूल के शेल्टर होम से एयरपोर्ट तक का कैब निहारिका के पापा ने बुक किया। रविवार को यह परिवार फ्लाइट से झारखंड पहुंच गया। बता दें कि इससे पहले झारखंड सरकार ने भी दूर-दराज फंसे अपने अपने राज्य के मजदूरों को फ्लाइट से बुलाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here