एक और किसान ने की आत्महत्या अपनी सुसाइड नोट में आखिरी इक्छा जाहिर की, ‘दिल्ली बॉर्डर पर हो अंतिम संस्कार’

0
150
farmer suicide

किसान और सरकार के बीच चल रहा गतिरोध कम नही हो रहा है. इसी बीच एक और बुरी खबर सामने आई है, दिल्ली बॉर्डर (Delhi Border) पर एक और किसान ने आत्महत्या की है. कड़ाके की ठंड में भी किसान तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर बरकरार हैं. इस बीच, गाजियाबाद के यूपी गेट पर एक किसान ने शौचालय में शनिवार को सुसाइड कर लिया. गाजियाबाद पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. मृतक किसान उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के बिलासपुर का रहने वाले हैं. उन्होंने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है. सुसाइड करने वाले किसान का नाम कश्मीर सिंह था और वह 75 साल के थे. सुसाइड नोट में उन्होंने अपनी अंतिम इच्छा का जिक्र किया है.

ये भी पढ़ें:- BJP नेता Dilip Ghosh के बिगड़े बोल, कहा- हिंदुओं के अस्तित्व बचाने के लिए हथियार उठाएं युवा

सुसाइड नोट में लिखा है कि आखिर हम कब तक यहां सर्दी में बैठे रहेंगे. ये सरकार सुन नहीं रही है और इसलिए अपनी जान देकर जा रहा हूं, ताकि कोई हल निकल सके. अपने सुसाइड नोट में उन्होंने लिखा है कि मेरा अंतिम संस्कार मेरे पोते, बच्चे के हाथों यहीं दिल्ली यूपी बॉर्डर पर होना चाहिए. केंद्र के कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) चल रहा है. भारतीय किसान यूनियन ने कहा कि ये बहुत ही दुख का विषय है कि आज यूपी गेट पर रामपुर जिले के सरदार कश्मीर सिंह लाडी ने शौचालय में आत्महत्या कर ली. उनका परिवार, बेटा और पोता यहीं आंदोलन में लगातार सेवा कर रहे हैं. सुसाइड नोट अब पुलिस के कब्जे में है. उन्होंने नोट में अपनी आत्महत्या का जिम्मेदार सरकार को बताया है.

ये भी पढ़ें:- Dunzo App के सर्वे में खुलासा, Lockdown में सड़कों पर लगा पहरा तो बढ़ गई Condom की बिक्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here