मन की बात में बोले PM मोदी – आगे भी बरते सावधानी, कोरोना के खिलाफ लड़ाई अब भी गंभीर

0
173
mann ki baat

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लागू लॉकडाउन के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 65वीं बार ‘मन की बात’ की। पीएम ने कहा कि दो महीने के लॉकडाउन के बाद देश में एक बार फिर से सब कुछ खुल रहा है ऐसे में हमें और भी ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना से डटकर मुकाबला कर रही है साथ ही देश में सभी के सामूहिक प्रयासों से कोरोना के खिलाफ लड़ाई बड़ी मजबूती से लड़ी जा रही है। पीएम ने एक बार फिर दो गज की दूरी बहुत है जरूरी पर जोर दिया।

ये भी पढ़ें:- सीमेंट के पाइप में में रहने को मजबूर मजदूरों ने रो-रोकर बताया अपना हाल, सोनू सूद ने कहा- कल घर जा रहे हो मेरे भाई

उन्होंने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा कि पिछली बार जब मैंने पिछली बार आपसे मन की बात की थी, तब यात्री ट्रेनें बंद थीं, बसें बंद थीं, हवाई सेवा बंद थी। इस बार, बहुत कुछ खुल चुका है। श्रमिक स्पेशल ट्रेन चल रही हैं, अन्य स्पेशल ट्रेनें भी शुरू हो गई हैं। तमाम सावधानियों के साथ, हवाई जहाज उड़ने लगे हैं, धीरे-धीरे उद्योग भी चलना शुरू हुआ है, यानी अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा अब चल पड़ा है, खुल गया है। ऐसे में, हमें और ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है। प्रधानमंत्री ने मन की बात में देश के ऐसे कुछ लोगों का जिक्र भी किया जो कोरोना काल में लगतार लोगों की मदद में लगे हुए हैं।


हर महीने के अंतिम रविवार को आने वाले इस कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कोरोना वायरस, कोरोना योद्धाओं, बंगाल में सुपर साइक्लोन अम्फान, खेतों में टिड्डियों के हमले समेत तमाम मुद्दों पर देश को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना को लेकर हमारे देश के लैब में हो रहे वैक्सीन पर काम को लेकर पूरी दुनिया की नजर है। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना पर बिल्कुल भी ढिलाई नहीं बरतनी चाहिए। इसके खिलाफ भारत मजबूती से लड़ाई लड़ रहा है। मोदी बोले कि दुनिया के बड़े नेताओं को ऐसा लगता है कि कोरोना से जंग में आयुर्वेद अहम रोल अदा कर सकता है। लॉकडाउन खत्म होने पर मिल रही छूट (Unlock 1.0) पर भी मोदी बोले, कहा कि फिलहाल सावधानियों को बरतना न छोड़ें क्योंकि कोरोना कहीं नहीं गया है।

ये भी पढ़ें:- चीन के साथ तनाव के बीच भारत ने चीन सीमा के पास असम में तैनात किए चिनूक हेलिकॉप्टर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here