शहाबुद्दीन दिल्ली में दफन, सिवान में दफनाना चाहते थे नहीं मिल इजाजत, बेटा ओसामा रहा मौजूद

0
6
shahabuddin

बिहार से राजद (RJD) के बाहुबली नेता और पूर्व सांसद शहाबुद्दीन (Ex Siwan MP Shahabuddin) के निधन के बाद दफनाया गया. शहाबुद्दीन के पार्थिव शरीर को सोमवार को दिल्ली के ITO कब्रगाह में दफन कर दिया गया. शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा समेत बड़ी संख्या में शहाबुद्दीन के समर्थक उनकी अंतिम यात्रा में शामिल हुए. असदुद्दीन ओवैसी ने बिहार के पूर्व सांसद और बाहुबली नेता शहाबुद्दीन को दफनाने को लेकर कहा है कि घरवाले उन्हें सिवान में दफनाना चाहते हैं. लेकिन उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी जा रही है. इस दौरान ऐसा मौका भी आया जब लालू यादव और तेजस्वी यादव के खिलाफ नारे लगे. सोमवार दोपहर शहाबुद्दीन का जनाजा लेकर उनके बेटे ओसामा दिल्ली स्थित ITO कब्रगाह आए और फिर उनके पार्थिव शरीर की यहां सुपुर्दे खाक कर दिया.

ये भी पढ़ें:- Adar Poonawalla: सीरम इंस्टीट्यूट के CEO अदार पूनावाला पत्नी और बच्चों संग ब्रिटेन पहुंचे, बोले- मिल रही थीं वैक्सीन को लेकर पावरफुल लोगों के धमकियां

शहाबुद्दीन के निधन को लेकर बिहार से लेकर दिल्ली तक खूब सियासत हो रही थी. असदुद्दीन ओवैसी ने आरोप लगाया है कि उनका ठीक से इलाज नहीं किया गया. राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता सह पूर्व प्रवक्ता एजाज अहमद ने कहा कि पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन साहब के मौत के बाद कुछ लोग गुमराही की सियासत में लग गए हैं. शहाबुद्दीन को सुपुर्द-ए-खाक करने के समय उनके समर्थक भड़क उठे, जिसके बाद RJD नेता तेजस्वी यादव ने ताबड़तोड़ ट्वीट कर सफाई दी. तेजस्वी ने एक के बाद एक तीन ट्वीट कर सफाई दी. तेजस्वी ने लिखा- ‘आरजेडी शहाबुद्दीन के परिवार वालों के साथ मजबूती से खड़ी रही है और आगे भी रहेगी.’ बिहार के बाहुबली और हत्या के मामले में तिहाड़ जेल में आजावीन कारावास की सजा काट रहे पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन का कोविड-19 संक्रमण के कारण शनिवार को निधन हो गया. पिछले दिनों वह जेल में ही कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आए थे और दिल्ली स्थित दीन दयाल उपाध्याय अस्पाल में इलाज चल रहा था.

ये भी पढ़ें:- IPL 2021: हरप्रीत बरार का ट्वीट वायरल, अक्षय कुमार से तुलना करने पर भड़क उठे थे बोले – पैसों के लिए पगड़ी नहीं पहनते

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here