S-400 खरीद पर अमेरिका ने Turkey पर लगाया प्रतिबंध, Joe Biden का भारत के प्रति क्या होगा रुख?

0
155
s 400

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने विदाई से पहले तुर्की पर रूसी S-400 एयर डिफेंस सिस्टम खरीदने के लिए प्रतिबंध लगा दिया है. इसके साथ ही रूस के साथ ऐसी डील करने से बचने के लिए अन्य देशों को भी आगाह किया है . इस नए विवाद को अब 20 जनवरी को शपथ लेने जा रहे जो बाइडेन (Joe Biden) को सुलझाना होगा. भारत भी रूसी मिसाइल सिस्‍टम की इच्‍छा रखने वालों में शामिल है. अमेरिका की इस कार्रवाई से यह सवाल खड़ा हो गया है कि भारत के प्रति उसका रुख क्या होगा?

ये भी पढ़ें:- पंजाब के जेल DIG लक्षमिंदर सिंह जाखड़ ने किसानों के समर्थन में दिया इस्तीफा

भारत ने 2018 में रूस से S-400 एयर डिफेंस सिस्टम की पांच यूनिट के लिए 5.43 बिलियन अमेरिकी डॉलर का सौदा किया था. रूस के S-400 एयर डिफेंस सिस्टम को दुनिया का सबसे खतरनाक हथियार माना जाता है. हालांकि, मोदी सरकार ने कूटनीतिक स्तर पर काफी हद तक ये मामला सुलझा लिया था, लेकिन अब राष्ट्रपति भवन से जाते-जाते ट्रंप (Donald Trump) ने तुर्की पर प्रतिबंध लगाकर विवाद को फिर से तूल दे दिया है.

अमेरिका की आपत्तियों को दरकिनार करते हुए नई दिल्ली ने यह कदम उठाया था. अमेरिका चाहता है कि भारत रक्षा खरीद के मामले में रूस को तवज्जो न दे. डोनाल्ड ट्रंप कई मौकों पर यह इच्छा जाहिर कर चुके हैं. इसके पीछे वह हथियारों की होड़ का हवाला देते हैं, लेकिन उन्होंने खुद भारत के साथ कई रक्षा सौदों पर हस्ताक्षर किए हैं. ऐसे में अब सबकुछ जो बाइडेन (Joe Biden) पर निर्भर करता है और उसी के अनुरूप भारत को अपनी रणनीति तैयार करनी होगी.

अमेरिकी सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि तुर्की (Turkey) ने नियमों का उल्लंघन किया, जिसकी वजह से उस पर प्रतिबंध लगाए गए हैं. हम उम्मीद करते हैं कि दुनिया के अन्य देश The Countering America’s Adversaries Through Sanctions Act (CAATSA) के सेक्शन 231 का पालन करेंगे. साथ ही अमेरिका ने यह भी कहा है कि बाकी देशों को रूसी डिफेंस सिस्‍टम से बचना चाहिए, जो की प्रतिबंध की वजह बन सकता है. भारत यात्रा के दौरान ट्रंप ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के साथ 3.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर के हथियार सौदे की घोषणा की थी.

ये भी पढ़ें:- कमल हासन ने पीएम मोदी से पूछा- नए संसद भवन की जरूरत क्यों जब देश की आधी आबादी भूखी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here