सदन में भड़क गए CM Yogi Adityanath,सपा के हंगामे पर बोले-ज्यादा गर्मी न दिखाएं, सबका पेट दर्द दूर कर दूंगा

0
110
yogi adityanath

उत्तर प्रदेश विधानमंडल के बजट सत्र में सीएम योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को विधान परिषद में राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पारित कराने के दौरान से विपक्ष पर जोरदार हमला बोला. विधान परिषद में मुख्यमंत्री के भाषण के दौरान सपा के एमएलसी नाराज़ हुए और कई शब्दों पर आपत्ति जताई. इस पर सीएम योगी ने कहा कि सपा के लोग ज्यादा गर्मी ना दिखाएं, जो जिस भाषा को समझता है, उसे उसी भाषा मे समझाया जाता है. सीएम योगी ने कहा, ‘अच्छी चीजों को स्वीकारा जाता है और बुरी चीजों को छोड़ा जाता है, लेकिन यहां पर उल्टा देखने को मिलता है. बुरी चीजों को कन्वेंशन मानकर और भी बुरा कैसे किया जाए, इसके लिए कॉम्पटिशन किया जाता है. यह लोकतंत्र के लिए अच्छा संकेत नहीं है. इससे हमारे नेता और कार्यकर्ता विश्वसनीयता के संकट से गुजरते हैं. इसीलिए लोग उन्हें संदेह की नजरों से देखते हैं.’

ये भी पढ़ें:- देश भर में आज व्यापारी कर रहे भारत बंद, ट्रांसपोर्टर्स का चक्का जाम का ऐलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के तेवर समाजवादी पार्टी पर तल्ख होते जा रहे हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सदन में पहले अपना आचरण सुधारें. आप लोग सुनने की आदत डालें सपा के लोग, सबके पेट का दर्द दूर कर दूंगा. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘सदन में चिल्लाने से काम नहीं चलता, विश्वसनीयता का संकट खत्म हुआ, स्टेट गेस्ट हाउस कांड कौन नहीं जानता है, आजादी के पहले नेता सम्मानित शब्द था, आजादी के बाद नेता शब्द का सम्मान खत्म हुआ, हर कोई इसके लिए जिम्मेदार है, इसके बारे में हमसब को सोचने की जरूरत, जनता को प्रेरित करना हम सबका दायित्व है.’ सदस्य नरेश उत्तम ने आपत्ति करते हुए कहा, ‘मुख्यमंत्री बार-बार ठीक कर दूंगा, डोज दे दूंगा की बात करते हैं. मुख्यमंत्री खुद योगी हैं. उन्हें इस तरह की भाषा नहीं बोलनी चाहिए.’ इसके बाद सीएम और सपा सदस्यों के बीच काफी तीखी नोकझोंक हो गई. इस दौरान सपा के सदस्य खड़े होकर विरोध जताने लगे तो चेयरपर्सन कुंवर मानवेन्द्र सिंह ने बैठकर मुख्यमंत्री की बात सुनने को कहा.

ये भी पढ़ें:- स्पिनर की दमदार गेंदबाजी में पहले ही दिन अंग्रेजों ने दिए घुटने टेक, अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन की शानदार गेंदबाजी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here